Trending Posts

प्रमुख खेल पुरस्कार एवं प्रसिद्ध खिलाड़ी (Main Sports Awards and Famous Sports Personalities)

प्रमुख खेल पुरस्कार एवं प्रसिद्ध खिलाड़ी (Main Sports Awards and Famous Sports Personalities)

खेलों में खिलाड़ियों को बढ़ावा देने हेतु पुरस्कारों की अत्यंत महत्वपूर्ण भूमिका रहती है। पुरस्कार बच्चों को अच्छे खिलाड़ी एवं एथलीट बनने की प्रेरणा देते हैं, पुरस्कारों से प्रेरित होकर वे अपने देश का नाम रोशन करते हैं। जो मेहनत करता है उसे उचित फल मिलता है।

प्रत्येक खिलाड़ी अपनी योग्यताओं एवं सफलता की प्रशंसा चाहता है। पुरस्कार उसकी इस प्रवृति को सन्तुष्ट करता है। पुरस्कार उसके जीवन में एक नया मोड़ साबित होता है। हमें खेलों के प्रति जोश एवं जुनून की आवश्यकता है। उत्कृष्ट प्रदर्शन को मान्यता गिलना प्रेरणादायक होता है। खेलों को योग्य खिलाड़ियों एवं प्रशिक्षकों के अलावा अन्य लोगों द्वारा खेलकूद के विकास में योगदान देने वालों को सम्मान के लिये राष्ट्रीय खेल पुरस्कार प्रारंभ किये गये हैं।

प्रमुख राष्ट्रीय खेल पुरस्कार (Main Sports National Awards)

1. अर्जुन अवार्ड पुरस्कार
2. द्रोणाचार्य अवार्ड
3. राजीव गांधी खेल रत्न
4. ध्यानचंद पुरस्कार (आजीवन उपलब्धि हेतु)

अर्जुन पुरस्कार

खिलाड़ियों की पिछले तीन वर्षों की अर्न्तराष्ट्रीय उपलब्धियों को मध्यनज़र रखते हुये भारत सरकार द्वारा अर्जुन पुरस्कार से अलंकृत किया जाता है। अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर लगातार अच्छा प्रदर्शन करने वाले एवं नेतृत्व, खेल भावना और अनुशासन जैसे गुणों का प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को प्रतिवर्ष 29 अगस्त को दिया जाता है।

यह पुरस्कार 1961 से शुरू किया गया था । पुरस्कार पाने वाले खिलाड़ियों को पांडव अर्जुन की कारय प्रतिमा, प्रशस्ति पत्र मोनोग्राम, ब्लेज़र, टाई के साथ पांच लाख का नकद पुरस्कार दिया जाता है। 2016 में 15 खिलाड़ियों को विभिन्न खेलों में अर्जुन पुरस्कार से नवाजा गया ।

चयन- पुरस्कार पाने वाले खिलाड़ियों का चयन भिन्न-भिन्न समितियाँ करती हैं, जिसमें जज, पूर्व ओलम्पियन, अर्जुन पुरस्कार विजेता, द्रोणाचार्य, ध्यानचंद खेल पत्रकार, विशेषज्ञ, कमेन्टेटर तथा खेल प्रशासक सम्मिलित होते हैं। समिति का गठन भारत सरकार द्वारा किया जाता है।

द्रोणाचार्य अवार्ड

“गुरू गोविन्द दोउ खड़े, काके लागू पाये,
बलिहारी गुरू आपने, जिन गोविन्द दियो मिलाय”

संत कबीर के इस दोहे को सार्थक करते हुये भारत सरकार ने सन् 1985 में द्रोणाचार्य अवार्ड की स्थापना की। यह अवार्ड टीमों को प्रशिक्षण प्रदान करने में उत्कृष्ट भूमिका निभाने वाले खेल प्रशिक्षकों को उनके अन्तराष्ट्रीय स्तर की विभिन्न प्रतियोगिताओं में सर्वश्रेष्ठ परिणाम दिलाने के योगदान स्वरूप दिया जाता है। पुरस्कार पाने वाले प्रशिक्षक को पांच लाख नकद, द्रोणाचार्य की कांस्य प्रतिमा, प्रशस्ति पत्र, लेजर व टाई प्रदान की जाती है

राजीव गांधी खेल रत्न

राजीव गांधी खेल रत्न की शुरूआत सन् 1991-92 में भारत सरकार द्वारा की गई थी। भारत में दिया जाने वाला सबसे बड़ा खेल पुरस्कार है। अर्न्तराष्ट्रीय स्तर पर किसी भी वर्ष सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन दिखाने पर यह पुरस्कार दिया जाता है। पुरस्कार प्राप्त करने वाले खिलाड़ी को साढ़े सात लाख रूपये नकद, प्रशस्ति पत्र तथा ईनाम दिया जाता हैं 25 वर्ष के इतिहास में 2016 में सबसे अधिक चार खिलाड़ियों को यह पुरस्कार दिया गया। इस पुरस्कार का नाम भारत के भूतपूर्व प्रधानमंत्री स्व. श्री राजीवगांधी के नाम पर रखा गया है।

ध्यानचंद खेल पुरस्कार

खेल विद्या में आजीवन उपलब्धि के लिये दिया जाने वाला भारत सरकार का सर्वोच्च पुरस्कार है। जो भारत सरकार मंत्रालय, युवा मामलों और खेल द्वारा चार सालों में सन्यास लेने के बाद भी खेलों को प्रोत्साहन देने में शानदार योगदान के लिये दिया जाता है। ध्यानचंद खेल पुरस्कार 2002 से शुरू किया गया। पुरस्कार पाने वाले खिलाड़ियों को पांच लाख रूपये का नकद पुरस्कार, एक पटि्टिका एवं सम्मान की एक पुस्तिका दी जाती है।

उद्देश्य

1. खिलाड़ियों में खेल के प्रति जुनून पैदा करना ।
2.खेलों को बढ़ावा देना।
3. प्रशिक्षकों को अच्छे परिणाम देने हेतु प्रेरित करना।
4.नकद राशि के रूप में आर्थिक सहायता प्रदान करना। जिससे खिलाड़ी पोष्टिक आहार ले सकें |

सुविधा

1. सरकार द्वारा रेलवे का प्रथम एवं द्वितीय वातानुकूलित श्रेणी में (राजधानी, आदि) निशुल्क यात्रा का पास ।
2. रोजगार प्रदान करना।
3. विदेशों में प्रशिक्षण सुविधा उपलब्ध कराना।
4. अर्न्तराष्ट्रीय मापदंड के अनुरूप खेल उपकरण। आदि अनेकानेक सुविधाएं भारत सरकार द्वारा समय – समय पर उपलब्ध कराई जाती हैं । प्रतिवर्ष सुविधाओं में बढ़ोतरी भी की जाती है।

राजस्थान सरकार द्वारा दिये जाने वाले पुरस्कार Sports Awards given by Rajasthan Government)

खिलाड़ियों के विकास एवं प्रोत्साहन देने हेतु राजस्थान सरकार एवं विभिन्न प्रदेशों में भिन्न-भिन्न खेल पुरस्कार दिये जाते हैं।

महाराणा प्रताप पुरस्कार

उक्त पुरस्कार राष्ट्रीय एवं अन्तराष्ट्रीय स्तर पर खिलाड़ी द्वारा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के फलस्वरूप दिया जाता है। यह पुरस्कार सन् 1982 में शुरू किया गया था। इसमें महाराणा प्रताप की प्रतिमा, प्रशस्ति पत्र एवं एक लाख रूपये की राशि दी जाती है।

गुरू वशिष्ठ पुरस्कार

खेलों में अर्न्तराष्ट्रीय / राष्ट्रीय स्तर पर उत्कृष्ट परिणाम देने वाले प्रशिक्षकों को प्रोत्साहन स्वरूप प्रदान किया जाता है। सन् 1985 में प्रारंभ किया गया। पुरस्कार पाने वाले को प्रतिमा एक लाख रूपये नकद पुरस्कार देकर सम्मानित किया जाता है।

भारत सरकार द्वारा भिन्न-भिन्न खेलों में राजस्थान के अनेकों खिलाड़ियों को गुरू वशिष्ट पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है।

राष्ट्रीय स्तर पर द्रोणाचार्य पुरस्कार प्राप्त राजस्थान के प्रमुख प्रशिक्षक

क्रम संख्याप्रशिक्षकखेल
1.प्रो. कर्ण सिंहऐथलेटिक्स
2.रिपुदमन सिंहऐथलेटिक्स
3भवानी मुखर्जीटेबल टेनिस
4.विरेन्द्र पूनियाऐथलेटिकस
5.सागरमल धायलबॉक्सिंग

प्रसिद्ध खिलाड़ी (Famous Sports Personalities)

खेलखिलाडी
हॉकीके.डी. बाबू, मेजर ध्यानचंद (विक्टोरिया क्रॉस प्राप्त) बलवीर सिंह सीनियर, मोहम्मद शाहिद, धनराज पिल्लै, अशोक कुमार, श्रीजेश, सरदार सिंह,
परगट सिंह रानी वी रघुनाथ।  
एथलेटिक्समिल्खा सिंह (उड़न सिख), वी.एस. चौहान (एशिया का आयरन मैन),
पी.टी. उषा (उड़न परी), श्रीराम सिंह, गीता जुत्शी, अंजु बॉबी जॉर्ज,
कृष्णा पूनिया, ललिता बाबर आदि । देवेन्द्र झाझरिया, संदीप सिंह मान । (पैराऐथलेटिक्रा)  
जिम्नास्टिक  सोम बहादुर खुल्लर, मांतू देवनाथ, डॉ. कल्पना देवनाथ, दीपा कर्माकर।  
बैडमिन्टनप्रकाश पादुकोण, अर्पणा पोपट, साइना नेहवाल, पी.वी. सिंधु, सैयद मोदी,
अमिता सिंह, बिमल कुमार, ज्वाला गुट्टा, मधुमिता बिष्ट, पुलेला गोपीचन्द ।  
बॉस्केट बॉल एम. अब्बास, सरबजीत सिंह, खुशीराम, सुरेन्द्र कटारिया , हनुमान सिंह,
सुमन शर्मा, परमजीत सिंह, जोरावर सिंह ।  
क्रिकेटमंसूर अली खाँ पटौदी, सुनील मनोहर गावस्कर, सचिन रमेश तेंदुलकर,
कपिल देव निखंज, मो. अजहररूद्दीन, सौरव गांगुली, राहुल द्रविड़,
वी वी. एस. लक्ष्मण, वीरेन्द्र सहवाग, महेन्द्र सिंह धोनी. विराट कोहली,
अजिंक्य रहाणे, सलीम दुर्रानी, हनुमंत सिंह पार्थसारथी शर्मा।  
बिलियर्ड, स्नूकरगीत सेठी, पंकज आडवाणी, अशोक शांडिल्य, सौरव कोठारी
माइकल परेरा।  
गोल्फहरगीत काहलो, अर्जुन अटवाल, जीव मिल्खा सिंह।  
बॉक्सिंगमोहम्मद अली कमर, सोम बहादुर पुन, जीतेन्द्र कुमार, हवा सिंह,
विजेन्द्र सिंह शिवा थापा, मेरीकॉम।  
फुटबॉलपी.बनर्जी, वाईचुंग भूटिया, मगन सिंह सुब्रत पॉल ।  
स्कवैश-जोशना चिनप्पा, सौरव घोषाल।  
शूटिंगअंजली भागवत, अभिनव बिंद्रा, जसपाल राणा, गगन नारंग, राज्यवर्धन सिंह,
जीतू रॉय, अपूर्वी चंदेला, गुरप्रीत सिंह।  
कबड्डी– हरदीप सिंह, बलविन्दर फिददू, राकेश कुमार, अनुप कुमार,
नवनीत गीतम, ममता कुमारी, तेजेश्वरी, अभिलाषा म्हात्रे, मनदीप चिल्लर ।  
टेबल टेनिस-मनजीत दुआ, इन्द्रपुरी, चेतन बबूर, शरद कगल, मोगादास, सौम्यजीत घोष, सौम्यदीप राय, शुभाजीत साहा, पोलमी घटक, मोन्दू घोष, मल्लिका बत्रा।  
वेट लिफ्टिंगकरनम मल्लेश्वरी, एन. कुंजरानी ।  
कुश्तीसतपाल, योगेश्वर दत्त, साक्षी मलिक, विनेश फोगट, अमित कुमार।  
तीरंदाजीसंजीव कुमार सिंह, लिम्बाराम, श्यामलाल, रजत चौहान, दीपिका कुमारी।  
टेनिसविजय अमृतराज, रामानाथ कृष्णन, लियांडर पैस, महेश भूपति, सानिया मिर्जा, रोहन दोपन्ना।  
वॉलीबॉल-श्यामसुन्दर राव, सुरेश मिश्रा, लवरीत कटारिया, दिलीप खोईवाल।